Godhan Nyay Yojana Chhattisgarh 2022 | छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना लाभ, पंजीकरण, फॉर्म

Godhan Nyay Yojana Chhattisgarh 2022 | छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना | गोधन न्याय योजना छत्तीसगढ़ 2022 | Godhan Nyay Yojana Scheme 2022 | Godhan Nyay Yojana Registration | Chhattisgarh Godhan Nyay Yojana 2022 | CG Godhan Nyay scheme

Godhan Nyay Yojana Chhattisgarh 2022: छत्तीसगढ़ सरकार अपने राज्य के किसानों, पशुपालकों और गरीब लोगों के लिए समय-समय पर कई प्रकार की महत्वपूर्ण योजनाएं चलाते रहती हैं और इसी कड़ी में उन्होंने पशुपालकों को ध्यान में रखते हुए छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना की शुरुआत किए हैं जिसके अंतर्गत पशु पालकों से पशुओं द्वारा की जाने वाले गोबर को सरकार द्वारा खरीदा जाता है और उसके बदले उन्हें उनका आर्थिक सहायता राशि दिया जाता है।

तो ऐसे में अगर आप भी पशुपालन करके अपना जीवन यापन करते हैं और पशुओं द्वारा किए जाने वाले गोबर को इधर-उधर फेंक देते हैं तो ऐसे में आप छत्तीसगढ़ सरकार के इस गोधन न्याय योजना (CG Godhan Nyay Scheme) का लाभ उठा कर के उसके बदले में सरकार से कुछ आर्थिक सहायता राशि प्राप्त कर सकते हैं।

तो अगर आप भी पशुओं द्वारा किये जाने वाली गोबर को सरकार के इस योजना के माध्यम से बिक्री करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको इस लेख को ध्यान पूर्वक पढ़ने की जरूरत है क्योंकि आज के इस लेख में हम गोधन न्याय योजना छत्तीसगढ़ (CG Godhan Nyay yojana 2022) से संबंधित सभी प्रकार की जानकारी जैसे कि इसके तहत पंजीकरण कैसे करना है, इसके लिए किन-किन दस्तावेजों की आवश्यकता होगी और इस योजना का लाभ छत्तीसगढ़ के कौन लोग उठा सकते हैं। तो चलिए जानते हैं छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना 2022 के बारे मे.

Godhan Nyay Yojana Chhattisgarh क्या है, और इसके लाभ

छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा शुरू किए गए गोधन न्याय योजना एक ऐसी योजना है जिसके माध्यम से छत्तीसगढ़ सरकार सभी पशु पालकों से गाय के गोबर ₹2 प्रति किलो के हिसाब से खरीदती है। और जिसका उपयोग सरकार देशी खाद्य, कंपोस्ट, सुपर कंपोस्ट और वर्मी कंपोस्ट के अलावा कई अन्य चीजें बनाने के लिए करती हैं।

और इस योजना का लाभ छत्तीसगढ़ के कोई भी पशुपालक उठा सकता है चाहे वह गरीबी के कारण पशुपालन का कार्यकर्ता हो या कोई बिजनेस के उद्देश्य से पशुपालन का कार्य करता हो सभी अपने पशु के गोबर को सरकार की इस योजना के माध्यम से ₹2 प्रति किलो के हिसाब से बेच सकते हैं।

छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना के तहत मिलने वाला लाभ

छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना (Godhan Nyay Yojana Chhattisgarh) के तहत छत्तीसगढ़ सरकार अपने राज्य के पशु पालकों को नीचे दिए गए निम्नलिखित प्रकार के लाभ उपलब्ध कराती है।

Godhan Nyay Yojana Chhattisgarh 2022 benifits

  • गोधन न्याय योजना का लाभ छत्तीसगढ़ के कोई भी पशुपालक उठा सकता है और अपने पशुओ द्वारा की जाने वाली गोबर को इस योजना के माध्यम से भेज सकता है।
  • गोधन न्याय योजना के बहुत छत्तीसगढ़ सरकार सभी पशु पालकों से ₹2 प्रति किलो के हिसाब से गोबर करती हैं।
  • और जब कोई पशुपालक अपने गोबर को इस योजना के माध्यम से बेच देता है तो प्रति क्विंटल के हिसाब से सरकार उस पशुपालक के खाते में पैसा भेज देती है।
  • और पूरे छत्तीसगढ़ राज्य में इस योजना को साल 2020 के जुलाई महीने से संचालित किया जा रहा है।
  • और छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना का लाभ छत्तीसगढ़ राज्य के कोई भी मूल निवासी पशुपालक परिवार उठा सकता है चाहे वह किसी भी जाति धर्म मजहब से ताल्लुक रखता हो।

छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना के उदेश्य

छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा गोधन न्याय योजना को शुरू करने के पीछे का मुख्य उद्देश छत्तीसगढ़ के सभी पशु पालकों से गोबर खरीद करके राज्य में ही देशी खाद्य इत्यादि का उचित मात्रा में उत्पन्न करना है।
और साथ में राज्य में पशु पालकों और जैविक खेती करने वाले लोगों को बढ़ावा देना है क्योंकि ज्यादातर लोग पशुओं के गोबर के कारण पशुपालन का कार्य शुरू नहीं करते हैं तो ऐसे में सरकार के इस योजना को शुरू करने से राज्य में पशु पालन करने वाले लोगों की संख्या में वृद्धि होगा।

छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना (Godhan Nyay Yojana Chhattisgarh 2022) से जुड़े कुछ जरूरी जानकारी

मुख्य बिंदुजानकारी
योजनाछत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना 2022
कब शुरू की गईसाल 2020
सरकारछत्तीसगढ़ सरकार द्वारा
मुख्य उद्देश्यछत्तीसगढ़ के सभी पशुपालकों से गोबर खरीदना
लाभार्थीछत्तीसगढ़ के सभी पशुपालक
छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना दस्तावेजपशुपालक का आधार कार्ड
पशुपालक का निवास प्रमाण पत्र
पशुओ की संख्या के प्रमाण
पशुओ से सम्बंधित जानकारी
पासपोर्ट साइज फोटो
मोबाइल नंबर और ईमेल
आवेदन का तरीकाऑफलाइन
अधिकारिक वेबसाइटअभी तक नहीं

छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना के प्रमुख विशेषताएं

  • छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना (Godhan Nyay Yojana Chhattisgarh) के माध्यम से पशुपालकों से खरीदी गई गोबर का इस्तेमाल सरकार देसी खाद इत्यादि बनाने में करती है।
  • और इस योजना के अंतर्गत पशुपालकों को ₹2 प्रति किलो हिसाब से गोबर का दाम दिया जाता है और उन्हें पैसा लेने के लिए किसी भी सरकारी कार्यालय में जाना नहीं होता है डायरेक्ट dbt के माध्यम से सरकार उन पशुपालकों के खाते में पैसा भेज देती है।
  • और इस योजना का लाभ छत्तीसगढ़ की कोई पशुपालक चाहे वह बड़ा हो या छोटा सब भी कोई उठा सकता है।
  • और इस गोधन न्याय योजना के माध्यम से पशुपालकों को गोबर बेचने के लिए ज्यादा कुछ करने की भी जरूरत नहीं होता है केवल उन्हें इस योजना के तहत पंजीकरण कराना होता है उसके बाद सरकार द्वारा उनके दरवाजे पर खुद गोबर लेने के लिए लोगों को भेज दिया जाता है।

छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना पात्रता मापदंड

छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना (Godhan Nyay Yojana Chhattisgarh 2022) के लाभ उठाने के लिए सरकार ने कुछ पात्रता मापदंडों को तय किए हैं जिसका जानकारी नीचे दिया गया है।

Godhan Nyay Yojana Chhattisgarh 2022 eligibility criteria

  • गोधन न्याय योजना का लाभ उठाने के लिए पशुपालक का छत्तीसगढ़ राज्य का मूल निवासी होना जरूरी है और इसके लिए उसे के पास निवास प्रमाण पत्र होना आवश्यक है।
  • इस योजना के माध्यम से केवल दूध धारक को पशुओं जैसे की गाय इत्यादि के हीं गोबर को खरीदा जाएगा।
  • अगर कोई पशुपालक गाय भैंस इत्यादि के अलावा अन्य जानवरों की पशुपालन करता है तो उन जानवरों के गोबर को सरकार नहीं खरीदेगी।
  • अगर कोई व्यक्ति पशु पालन नहीं करता है फिर भी वह कहीं इधर उधर से गोबर इकट्ठा करके इस योजना के माध्यम से बेचना चाहते हैं तो उन व्यक्तियों का इस योजना के तहत पंजीकरण प्रक्रिया स्वीकृत नहीं की जाएगा।
  • इस योजना के तहत पंजीकरण कराने के लिए पशुपालक के पास कम से कम 3 से ज्यादा दुधारू गायों का होना आवश्यक है।

छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज़

छत्तीसगढ़ सरकार के गोधन न्याय योजना के लाभ उठाने के लिए आपके पास नीचे दिए गए निम्न दस्तावेजों का होना आवश्यक है उसके बाद ही आपका इस योजना के तहत पंजीकरण किया जाएगा।

Godhan Nyay Yojana Chhattisgarh 2022 documents required

  • पशुपालक का आधार कार्ड
  • पशुपालक का निवास प्रमाण पत्र
  • पशुओ की संख्या के प्रमाण
  • पशुओ से सम्बंधित जानकारी
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • मोबाइल नंबर और ईमेल

छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना के लिए आवेदन कैसे करे, पूरी प्रक्रिया?

छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना (Godhan Nyay Yojana Chhattisgarh 2022) के तहत पंजीकरण पूरी करने लिए आपको निचे दिए गए प्रक्रिया को फ़ॉलो करने की जरुरत है।

Godhan Nyay Yojana Chhattisgarh Registration process 2022

  • अगर आप भी छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना 2022 के लिए पंजीकरण करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको सबसे पहले अपने नजदीकी पंचायत कार्यालय या ब्लॉक में जाने की जरूरत है।
  • और उसके बाद वहां आपको सबसे पहले Godhan Nyay Yojana Chhattisgarh Registration form लेना है, और उसमें मानी गई सभी जरूरी जानकारी को ध्यानपूर्वक पढ़ते हुए भर देना है।
  • और फिर साथ में उस आवेदन फॉर्म में मांगे के सभी जरूरी दस्तावेजों के फोटो कॉपी को भी अटैच करके उसी कार्यालय में फॉर्म को जमा कर देना है।
  • और फिर जैसे ही आप कार्यालय में आवेदन फॉर्म जमा करते हैं तो उसके बाद आपके द्वारा दी गई जानकारी को इस योजना से संबंधित अधिकारियों द्वारा सत्यापित किया जाता है और फिर सत्यापन पूरी करने के बाद आपके यहां से गोबर ₹2 प्रति किलो के हिसाब से खरीद लिया जाता है।
  • इस तरह के ऊपर दिए गए इन कुछ साधारण प्रक्रिया को फॉलो करके आसानी से पशुओं के गोबर को सरकार के इस योजना के माध्यम से बेच सकते हैं और सरकार से आर्थिक राशि प्राप्त कर सकते हैं।

Godhan Nyay Yojana CG FAQ?

तो चलिए अब जानते हैं छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना (Godhan Nyay Yojana Chhattisgarh 2022) से सम्बन्धित कुछ महत्वपूर्ण प्रश्नो के उत्तर के बारे मे, जिसे लोगों द्वारा अक्सर google पर सर्च किया जाता है।

Q. गोधन न्याय योजना कब शुरुआत की गई है?

Ans: छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा गोधन न्याय योजना की शुरुआत साल 2020 में किया गया है और 21 जुलाई 2020 से इस योजना के तहत पशुपालकों से गोबर खरीदना प्रारंभ कर दिया गया है।

Q.गोधन न्याय योजना क्या है?

Ans: छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना के तहत छत्तीसगढ़ के पशु पालकों से सरकार ₹2 प्रति किलो के हिसाब से पशुओं के गोबर खरीदती है।

Q.गोधन न्याय योजना पंजीयन फार्म कैसे भरें?

Ans: अगर आप भी छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना के तहत पंजीकरण फॉर्म को भरना चाहते हैं तो इसके लिए आप ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों माध्यम से पंजीकरण पूरी कर सकते हैं।

इन योजनओं को भी जाने :

दाई दीदी मोबाइल क्लीनिक योजना

छत्तीसगढ़ शक्ति स्वरूपा योजना

निष्कर्ष –

आज के इस लेख में हमने छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा पशुपालकों के लिए शुरू किए गए छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना (Godhan Nyay Yojana Chhattisgarh 2022) के बारे मे जाना है, और हमने आपको बताया है कि इस योजना के तहत पंजीकरण करा करके आप कैसे अपने पशुओं के गोबर को ₹2 प्रति किलो के हिसाब से सरकार को बेच सकते हैं।

तो ऐसे मे hindiworld की पूरी टीम आशा करता है की इस लेख को पढ़ने के बाद आपको छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना से सम्बन्धित सभी प्रकार की जानकारी मिल गया होगा। और ऐसे हीं छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा चलाए जा रहे अन्य सरकारी योजनाओं के बारे में जानने के लिए छत्तीसगढ़ सरकारी योजना (Chhattisgarh Sarkari Yojana 2022) सेक्शन  को एक बार जरूर चेक करें। धन्यवाद



Leave a Comment