RAC Full Form In Hindi | आरएसी क्या है और इसके फायदे

RAC Ka full form | RAC Full Form | आरएसी की फुल फॉर्म | RAC Full Form In Hindi | आरएसी क्या है | RAC In Hindi | आरएसी के फायदे

यात्रा करना हमारे जीवन का महत्वपूर्ण हिस्सा है और जब हम यात्रा की योजना बनाते हैं, तो एक महत्वपूर्ण सवाल हमेशा मन में उठता है अगर हमारी रेल यात्रा के लिए हमे कन्फर्म टिकट नहीं मिल रही तो हमें क्या करना चाहिए? इस समस्या का समाधान ढूंढ़ने के लिए भारतीय रेलवे द्वारा एक महत्वपूर्ण सुविधा शुरू की गई है जिसे आरएसी कहते है।

आज के इस आर्टिकल में हम आरएसी के बारे में ही सम्पूर्ण जानकारी शेयर करेंगे की आरएसी की फुल फॉर्म क्या है, आरएसी क्या है और आरएसी के फायदे क्या है, चलिए जानते है।

RAC Full Form In Hindi (आरएसी की फुल फॉर्म)

RAC Ka full form Reservation Against Cancellation होती है और RAC Full Form In Hindi रिजर्वेशन अगेंस्ट कैंसलेशन जिसका अर्थ आरक्षण विरोधी रद्दीकरण होता है। रेलवे एक ऐसी स्थिति में RAC सीट देता है जिससे उन यात्रियों को सीट मिलती है जिन्हें पहले से टिकट नहीं मिल पाया होता है।

RAC Ka Full Form: Reservation Against Cancellation

RReservation

AAgainst

CCancellation

आरएसी क्या है (What is RAC In Hindi)

रिजर्वेशन अगेंस्ट कैंसलेशन (RAC) भारतीय रेलवे द्वारा प्रदान की जाने वाली एक सुविधा है जो यात्रियों को सीटें बिकने के बाद भी टिकट बुक करने की अनुमति देती है। आरएसी में दो यात्रियों को एक ही बर्थ दी जाती है, जो दिन में बैठने और रात में सोने के लिए होती है।

कैंसलेशन के मामले में, कन्फर्म सीट पाने के लिए आरएसी यात्रियों को वेटिंग लिस्ट वाले यात्रियों पर वरीयता (प्रायोरिटी) दी जाती है। यदि कैंसिलेशन के कारण कंफर्म बर्थ उपलब्ध हो जाती है, तो आरएसी यात्रियों को उनके आरएसी टिकट नंबरों के आधार पर बर्थ आवंटित कर दी जाती है।

आरएसी के फायदे (Advantages of RAC In Hindi)

आरएसी टिकट का सबसे बड़ा फायदा यह है कि यह आपको ट्रेन में चढ़ने का अधिकार देता है। जैसा कि आप जानते हैं कि आप वेटिंग लिस्ट के टिकट पर यात्रा नहीं कर सकते।

यदि आप आरएसी टिकट के साथ ट्रेन में यात्रा कर रहे हैं, तो एक अच्छा मौका है कि आपको जल्द ही एक कन्फर्म बर्थ मिल जाएगी, जो कि भारतीय रेलवे द्वारा निर्धारित खाली सीटों की उपलब्धता पर निर्भर करता है।

अगर आपकी यात्रा की योजना 100% पक्की नहीं है, तो आरएसी टिकट कराना फायदेमंद हो सकता है। क्योंकि यदि आप यात्रा करना चाहते हैं, तब भी आप यात्रा कर सकते हैं, और यदि आपको अपना टिकट कैंसिल करने की आवश्यकता है, तो आरएसी टिकट कैंसिल करने का शुल्क बहुत कम होता है।

आरएसी के नुकसान

RAC (रिजर्वेशन अगेंस्ट कैंसलेशन) एक प्रकार का टिकट है जो भारतीय रेलवे द्वारा यात्रियों को ट्रेन में चढ़ने की अनुमति देने के लिए जारी किया जाता है, भले ही क्यों न सभी सीटें पहले ही बिक चुकी हों। हालांकि, आरएसी टिकट की कुछ कमियां भी हैं जो कि इस प्रकार है-

सीट की कोई गारंटी नहीं:- जब आप आरएसी टिकट बुक करते हैं, तो आपको कन्फर्म सीट की गारंटी नहीं होती है। आपको दूसरे यात्री के साथ साझा बर्थ दी जाएगी, जिसका अर्थ है कि आपको पूरी यात्रा के लिए किसी अजनबी के साथ सीट शेयर करनी पड़ सकती है।

सीमित प्राइवेसी:- क्योंकि आरएसी टिकट किसी अन्य यात्री के साथ शेयर किए जाते हैं, इसलिए यात्रा के दौरान आपके पास सीमित प्राइवेसी होती है। जगह और प्राइवेसी की कमी के कारण हो सकता है कि सोना या आराम करना सम्भव न हो।

कैंसलेशन के मामले में पूर्ण रिफंड नहीं:- यदि आप अपना आरएसी टिकट कैंसिल करते हैं, तो आपको पूर्ण रिफंड नहीं मिलेगा। कैंसलेशन चार्ज काटने के बाद ही आपको किराए का रिफंड दिया जाएगा।

साइड लोअर बर्थ की कोई सुविधा नहीं:- यदि आप आरएसी टिकट बुक करते हैं, तो साइड लोअर बर्थ का कोई प्रावधान नहीं है। इसका मतलब है कि आपको साइड अपर बर्थ को दूसरे पैसेंजर के साथ शेयर करना पड़ सकता है, जो आपके लिए असुविधाजनक हो सकता है।

कन्फर्मेशन में डिले:- आरएसी टिकट अक्सर अंतिम समय तक कन्फर्म नहीं होते हैं।

सीमित उपलब्धता-: आरएसी टिकट केवल कुछ ही ट्रेनों में उपलब्ध होते हैं और अक्सर जल्दी बिक जाते हैं। इसका मतलब है कि यात्रियों को जनरल टिकट के लिए समझौता करना पड़ सकता है या फिर दूसरी ट्रेन का इंतजार करना पड़ सकता है।

आरएसी के नियम

फाइनल चार्ट तैयार होने के बाद भी आप अपना आरएसी टिकट कैंसिल कर सकते हैं।

यदि अंतिम चार्ट के बाद भी आपकी टिकट की स्थिति आरएसी बनी रहती है, और आप यात्रा नहीं करने का निर्णय लेते हैं, तो आप अपना टिकट कैंसिल कर सकते हैं।

आपको ट्रेन के निर्धारित समय से तीस मिनट पहले तक अपना आरएसी टिकट कैंसिल करने की अनुमति होती है।

आरएसी के चार्जेज

आईआरसीटीसी विभाग के निर्धारित मानदंडों के अनुसार आरएसी रिजर्वेशन को कैंसिल करने के लिए चार्ज इस बात पर निर्भर करता है कि टिकट आई-टिकट है या ई-टिकट है। आई-टिकट के मामले में, कैंसलशन शुल्क 60₹ प्रति यात्री लगाया जाता है। हालांकि, ई-टिकट के लिए, आरएसी को कैंसिल करने के लिए कोई रिफंड नहीं दिया जाता है।

आरएसी टिकट कब कंफर्म होता

इसे हम एक उदाहरण से समझते हैं जब रिजर्वेशन अगेंस्ट कैंसलेशन टिकट कन्फर्म हो जाता है। मान लेते हैं कि एक ट्रेन में 200 सीटें हैं, जिनमें से 180 रिज़र्व हैं और 20 आरएसी हैं। जब टिकट जारी किए जाते हैं, तो पहले आरक्षण कोटे की सभी सीटें भरी जाती हैं, उसके बाद आरएसी सीटें भरी जाती हैं। इसके बाद वेटिंग लिस्ट के टिकट जारी किए जाते हैं।

अब रिजर्वेशन वाले 180 यात्रियों में से अगर कोई अपना टिकट कैंसिल करता है तो 91वें नंबर वाले आरएसी टिकट धारक का टिकट पहले कन्फर्म होगा यानी उन्हें रिजर्वेशन टिकट मिलेगा। इसी तरह, यदि अधिक रिज़र्व टिकट कैंसिल किए जाते हैं, तो आरएसी टिकट होल्डर्स को उनके टिकट का कन्फर्मेशन जल्दी मिल जाएगा ।

जब आरएसी टिकट कन्फर्म हो जाता है और उन्हें रिज़र्व टिकट मिल जाता है, तो वेटिंग लिस्ट के टॉप पर आरएसी टिकट धारक को आरएसी टिकट दिया जाता है। यह प्रोसेस तब तक जारी रहता है जब तक कि ट्रेन का चार्ट तैयार नहीं हो जाता।

ये भी पढ़े:

निष्कर्ष

आरएटीसी यानि रिजर्वेशन अगेंस्ट कैंसलेशन एक ऐसी सुविधा है जो यात्रियों को उनकी यात्रा के दौरान अपेक्षित रद्दीकरण के स्थान पर आरामपूर्वक यात्रा करने की सुविधा प्रदान करती है। यह भारतीय रेलवे द्वारा प्रदान की जाने वाली एक महत्वपूर्ण सुविधा है जो यात्रियों को उनकी यात्रा में आराम और सुरक्षा देने का एक प्रभावी तरीका है। तो दोस्तों अब हमे उम्मीद है की आपको आरएसी की फुल फॉर्म और आरएसी क्या है इस विषय में सभी जानकारी मिल गई होगी।

बाकी ऐसे ही अंग्रेजी के अन्य शब्दों के full form के बारे में जानकारी प्राप्त करने के लिए हिंदी वर्ल्ड ब्लॉग के फुल फॉर्म सेक्शन को एक बार जरूर चेकआउट करें। धन्यवाद

Leave a Comment