Mukhyamantri Fasal Sahayata Yojana 2022 – आवेदन फॉर्म, पंजीकरण, दस्तावेज, योग्यता और मुआवजा राशि

Mukhyamantri Fasal Sahayata Yojana 2022: बिहार सरकार अपने राज्य के किसानों के हितों का ख्याल करते हुए समय-समय पर कई प्रकार के महत्वपूर्ण और महत्वकांक्षी योजनाएं उनके लिए लाते रहती हैं जिससे किसानों को फायदा मिल सके। और इसी कड़ी में उन्होंने मुख्यमंत्री फसल सहायता योजना की शुरुआत किए हैं जिसके तहत बिहार के सभी किसानों को प्राकृतिक आपदाओं के कारण फसल नुकसान होने पर सरकार द्वारा मुआवजा राशि दिया जाता है। और इस योजना के तहत दी जाने वाले मुआवजा राशि को सरकार द्वारा dbt के माध्यम से किसानों के खाते में पैसा भेजा जाता है।

तो ऐसे मे अगर आप भी बिहार के किसान हैं और ऐसे इलाके में किसानी करते हैं जहां प्राकृतिक आपदाओं का प्रकोप ज्यादा रहता है तो ऐसे में आप बिहार सरकार के Mukhyamantri Fasal Sahayata Yojana का लाभ उठा करके सरकार से अपनी फसलों का प्राकृतिक आपदाओं के कारण नुकसान होने पर मुआवजा राशि प्राप्त कर सकते हैं।

तो चलिए जानते हैं बिहार सरकार के मुख्यमंत्री फसल सहायता योजना (bihar Fasal Sahayata Yojana) के आवेदन प्रक्रिया, दस्तावेज, इसके तहत मिलने वाले मुआवजा राशि और योग्यता के बारे में।

Table Of Contents
  1. Mukhyamantri Fasal Sahayata Yojana क्या है, और इसके तहत मिलने वाला लाभ
  2. बिहार फसल सहायता योजना के लाभ
  3. बिहार मुख्यमंत्री फसल सहायता योजना के प्रमुख विशेषताएं
  4. बिहार मुख्यमंत्री फसल सहायता योजना के मुख्य उद्देश्य
  5. Mukhyamantri Fasal Sahayata Yojana के अंतर्गत दी जाने वाली मुआवजा राशि का विवरण
  6. मुख्यमंत्री फसल सहायता योजना के लिए पात्रता
  7. फसल सहायता योजना के लिए जरुरी अवश्यक दस्तावेज
  8. बिहार राज्य फसल सहायता योजना 2022 के लिए आवेदन कैसे करे?
  9. Bihar Fasal Sahayata Yojana portal पर लॉगइन कैसे करें?
  10. Bihar Fasal Sahayata Yojana Helpline Number
  11. Bihar Fasal Sahayata Yojana FAQ?
  12. निष्कर्ष –

Mukhyamantri Fasal Sahayata Yojana क्या है, और इसके तहत मिलने वाला लाभ

मुख्यमंत्री फसल सहायता योजना बिहार सरकार की एक ऐसी योजना है जिसके अंतर्गत बिहार के सभी किसानों को प्रकृतिक आपदाओं के कारण उनके फसलों के नुकसान होने पर सरकार द्वारा ₹7500 से लेकर ₹10000 प्रति हेक्टेयर के हिसाब से मुआवजा राशि प्रदान किया जाता है, और इस Mukhyamantri Fasal Sahayata Yojana के अंतर्गत अगर किसी किसान के फसल का नुकसान केवल 20 फ़ीसदी हुआ होता है तो ऐसी परिस्थिति में उस किसान को ₹7500 प्रति हेक्टेयर के हिसाब से मुआवजा राशि दिया जाता है, जबकि अगर किसी किसान का 20 फीसदी से अधिक फसलों का नुकसान प्राकृतिक आपदाओं के कारण हुआ है तो उसे ₹10000 प्रति हेक्टेयर के हिसाब से सरकार द्वारा मुआवजा राशि दिया जाता है।

बिहार फसल सहायता योजना के लाभ

बिहार सरकार के बहुत हीं महत्वपूर्ण योजना जिसका नाम Mukhyamantri Fasal Sahayata Yojana 2022 है, उसके तहत निचे दिए गए निम्नलिखित प्रकार के लाभ बिहार सरकार द्वारा बिहार के किसानों को दिया जाता है।

Mukhyamantri Fasal Sahayata Yojana benifits 2022

  • इस योजना के तहत बिहार के सभी किसानों को उनकी फसलों का नुकसान होने पर सरकार द्वारा आर्थिक मुआवजा राशि दिया जाता है।
  • और इस फसल सहायता योजना के तहत जिन किसानों की फसलों का नुकसान 20 फीसदी से अधिक होता है उन्हें ₹75000 प्रति हेक्टेयर और जिनका नुकसान 20 फीसदी से ज्यादा होता है उन्हें ₹10000 प्रति हेक्टेयर के हिसाब से मुआवजा राशि दिया जाता है।
  • और इस योजना के तहत दी जाने वाले मुआवजा राशि को लेने के लिए किसी भी किसान को किसी भी सरकारी दफ्तर या कार्यालय में जाने की जरूरत नहीं होता है डीवीडी के माध्यम से सरकार खुद ब खुद उनके पैसों को उनके खाते में भेज देती है।
  • इस योजना के अंतर्गत चना, मसूर, कबूतर, सरसों, सरसों, ईख, प्याज के अलावा और भी कई प्रकार के रवि और खरीफ फसलों के नुकसान पर मुआवजा राशि सरकार द्वारा दिया जाता है।
  • और इस योजना के लिए पंजीकरण ऑनलाइन एवं ऑफलाइन दोनों तरीके से कोई भी किसान करवा सकता है।

बिहार मुख्यमंत्री फसल सहायता योजना  (Mukhyamantri Fasal Sahayata Yojana 2022) से सम्बन्धित जरूरी जानकारी

योजना का नामबिहार मुख्यमंत्री फसल सहायता योजना 2022
सरकारबिहार सरकार द्वारा
लाभार्थीबिहार के किसान
मुख्य उद्देश्यबिहार के सभी छोटे और सीमांत किसानो को प्राकृतिक आपदाओं के कारण फसल नुकसान होने पर आर्थिक मुआवजा पहुँचाना
पीएम किसान योजना दस्तावेजआवेदक किसान का आधार कार्ड
आवेदक किसान का पहचान पत्र
निवास प्रमाण पत्र
आय प्रमाण पत्र
फसलों का प्राकृतिक आपदाओं के कारण नुकसान होने का प्रमाण पत्र
बैंक खाता विवरण (आधार कार्ड से जुड़ा हुआ)
खेती के कागजात (स्वयं के खेती)
मोबाइल नंबर
ऑफिसियल पोर्टलhttps://pmkisan.gov.in/

बिहार मुख्यमंत्री फसल सहायता योजना के प्रमुख विशेषताएं

  • बिहार सरकार के Mukhyamantri Fasal Sahayata Yojana 2022 की सबसे बड़ी विशेषता यह है कि इस योजना के तहत 5 हेक्टेयर तक की खेती नुकसान होने पर सरकार द्वारा मुआवजा राशि दिया जाता है।
  • और मुख्यमंत्री फसल सहायता योजना का लाभ बिहार के कोई भी किसान छोटा, सीमांत और बड़ा सभी कोई उठा सकता है।
  • अगर किसी किसान का 1 हेक्टेयर से कम खेती में प्राकृतिक आपदाओं के कारण फसल नुकसान भी हुआ है तो ऐसी परिस्थिति में भी सरकार द्वारा मुआवजा राशि प्रदान किया जाता है।
  • और इस बिहार मुख्यमंत्री फसल सहायता योजना के तहत दी जाने वाली आर्थिक मुआवजा राशि लेने के लिए किसी भी किसान को कोई भी ब्लॉक, सरकारी अधिकारी या कार्यालय में जाने की जरूरत नहीं होता है।
  • और इस योजना के अंतर्गत प्राकृतिक आपदा जैसे कि बाढ़ सूखा ओलावृष्टि या अधिक पानी की वजह से होने वाले फसलों के नुकसान पर मुआवजा राशि सरकार द्वारा दिया जाता है।

बिहार मुख्यमंत्री फसल सहायता योजना के मुख्य उद्देश्य

बिहार सरकार द्वारा Bihar Rajya Fasal Sahayata Yojana को शुरू करने के पीछे का मुख्य उद्देश बिहार के सभी छोटे और सीमांत किसानों को प्राकृतिक आपदाओं के कारण उनके फसलों में होने वाले नुकसान पर आर्थिक मुआवजा प्रदान करने के लिए किया गया है जिससे कि उन्हें अपने निजी जिंदगी में ज्यादा कठिनाइयों का सामना करना नहीं पड़े।

क्योंकि जैसा कि आप सभी भी जानते हैं कि सभी छोटे और सीमांत किसान के परिवार पूरी तरह से अपनी फसल पर ही निर्भर करते हैं और जब उनके फसलों का नुकसान प्राकृतिक आपदाओं के कारण नुकसान रहित हो जाता है तो ऐसी परिस्थिति में उन्हें अपनी जिंदगी में बहुत कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है और इसी चीज को ख्याल करते हुए बिहार सरकार ने bihar Mukhyamantri Fasal Sahayata Yojana 2022 की शुरुआत कीयें है।

अगर आम भाषा में कहें तो इस योजना का मुख्य उद्देश्य बिहार के सभी छोटे और सीमांत किसानों को प्राकृतिक आपदाओं के कारण फसल नुकसान होने पर उन्हें उनके फसल का मुआवजा राशि देना है।

Mukhyamantri Fasal Sahayata Yojana के अंतर्गत दी जाने वाली मुआवजा राशि का विवरण

बिहार मुख्यमंत्री फसल सहायता योजना के अंतर्गत अगर किसी भी बिहार के किसान के फसलों का नुकसान प्राकृतिक आपदा जैसे कि बाढ़, सूखा, ओलावृष्टि इत्यादि के कारण होता है तो उन्हें 20 फ़ीसदी फसल का नुकसान होने पर ₹7500 प्रति हेक्टेयर के हिसाब से जबकि 20 फ़ीसदी से अधिक फसल का नुकसान होने पर 10000 प्रति हेक्टेयर के हिसाब से मुआवजा राशि सरकार द्वारा दिया जाता है।

मुख्यमंत्री फसल सहायता योजना के तहत कवर की जानी वाली फसलें.

बिहार सरकार के मुख्यमंत्री फसल सहायता योजना के तहत नीचे दिए गए निम्नलिखित प्रकार के फसलों को कवर किया जाता है और उनके नुकसान होने पर सरकार द्वारा ₹7500 से लेकर 10000 तक मुआवजा राशि दिया जाता है।

S.Nफसल का नाम
1 सरसों
2ईख
3प्याज
4मसूर
5चना

मुख्यमंत्री फसल सहायता योजना के लिए पात्रता

अगर आप भी बिहार मुख्यमंत्री फसल सहायता योजना (Mukhyamantri Fasal Sahayata Yojana) के लाभार्थी बनना चाहते हैं तो इसके लिए सबसे पहले आपको बिहार सरकार द्वारा तय किए गए पात्रता मापदंडों को पूरी करने की आवश्यकता है।

Mukhyamantri Fasal Sahayata Yojana Eligibility Criteria 2022

बिहार फसल सहायता योजना का लाभ केवल उन्हीं किसानों को दिया जाएगा, जो कि बिहार के मूल निवासी है।

इसके अलावा इस योजना का लाभ उठाने के लिए उस व्यक्ति के पास कम से कम अपना खेती योग्य जमीन जरूर होना चाहिए।

और इस योजना के अंतर्गत केवल प्राकृतिक आपदाओं से फसलों के नुकसान होने पर मुआवजा राशि दिया जाता है अगर किसी और कारणवश आप की फसलों का नुकसान होता है तो ऐसी परिस्थिति में आपको कोई भी मुआवजा राशि सरकार द्वारा नहीं दिया जाता है।

फसल सहायता योजना के लिए जरुरी अवश्यक दस्तावेज

Bihar Mukhyamantri Fasal Sahayata Yojana के लाभार्थी बनने के लिए आपके पास नीचे दिए गए निर्णय के दस्तावेजों का होना आवश्यक है उसके बाद ही आप इस योजना के लिए ऑनलाइन या ऑफलाइन तरीके से आवेदन कर पाएंगे।

Bihar Mukhyamantri Fasal Sahayata Yojana Documents Required

  • आवेदक किसान का आधार कार्ड
  • आवेदक किसान का पहचान पत्र
  • निवास प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • फसलों का प्राकृतिक आपदाओं के कारण नुकसान होने का प्रमाण पत्र
  • बैंक खाता विवरण (आधार कार्ड से जुड़ा हुआ)
  • खेती के कागजात (स्वयं के खेती)
  • मोबाइल नंबर

बिहार राज्य फसल सहायता योजना 2022 के लिए आवेदन कैसे करे?

अगर आप भी बिहार सरकार द्वारा चलाए जा रहे मुख्यमंत्री फसल सहायता योजना (Bihar Mukhyamantri Fasal Sahayata Yojana) के लिए ऑनलाइन आवेदन करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको नीचे दिए गए प्रक्रिया को फॉलो करने कि आवश्यकता है।

Bihar Mukhyamantri Fasal Sahayata Yojana Registration process in hindi

  • इसके लिए सबसे पहले आपको बिहार सरकार द्वारा इस योजना के लिए लांच किए गए ऑफिशियल पोर्टल बिहार फसल सहायता योजना पर जाने की आवश्यकता है।
  • और उसके बाद होम पेज पर ही आपको इस योजना के तहत पंजीकरण करने का विकल्प दिखाई देगा उस पर क्लिक करना है।
  • क्लिक करने के बाद एक नया पेज खुलेगा जिसमें आपको आधार का विकल्प दिखाई पड़ेगा, उसमे yes वाले ऑप्शन पर क्लिक करना है।
  • और उसके बाद फिर से एक नया पेज खुलेगा जिसमें आपको अपना आधार नंबर और मोबाइल नंबर दर्ज करने के लिए बोला जाएगा उसको दर्ज करना है।
  • और फिर नीचे दिए हुए सबमिट बटन पर क्लिक कर देना है जैसे ही आप उस पर क्लिक करते हैं आपका इस योजना के तहत पंजीकरण प्रक्रिया पूरी हो जाएगा।

बिहार राज्य फसल सहायता योजना 2022 के लिए ऑफलाइन तरीके से आवेदन कैसे करें?

अगर आप बिहार फसल सहायता योजना के लिए ऑफलाइन तरीके से आवेदन करना चाहते हैं तो इसके लिए सबसे पहले आपको अपने नजदीकी ब्लॉक में या फिर तहसील कार्यालय में जाने की जरूरत है।

और उसके बाद सबसे पहले आपको वहाँ से इस योजना से संबंधित आवेदन फॉर्म को लेना है, और उसमे मांगी गई सभी जरूरी जानकारी जैसा कि ‘आपका नाम, पता, आधार नंबर, मोबाइल नंबर, खेती का विवरण’ इत्यादि को सही से ध्यान पूर्वक पढ़ते हुए भर देना है।

और फिर उस में मांगी गई जरुरी दस्तावेजों के फोटो कॉपी को अटैच करके उसी कार्यालय में उस आवेदन फॉर्म को जमा कर देना है।

उसके बाद आपके द्वारा दी गई सभी जानकारी और दस्तावेजों के सत्यापन इस योजना से संबंधित अधिकारियों द्वारा किया जाएगा और उसके बाद आपको इस योजना के तहत दी जाने वाली मुआवजा राशि प्रदान किया जाएगा।

Bihar Fasal Sahayata Yojana portal पर लॉगइन कैसे करें?

अगर आपने बिहार फसल सहायता योजना के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कर लिए हैं तो आप नीचे दिए गए प्रक्रिया को फॉलो करके लॉगइन कर सकते हैं और आगे की प्रक्रिया को पूरी कर सकते हैं।

इसके लिए भी सबसे पहले आपको बिहार फसल सहायता योजना के अधिकारी पोर्टल “https://pacsonline.bih.nic.in/fsy/” पर जाने की जरूरत होता है।

उसके बाद होम पेज पर ही आपको इस योजना के login ऑप्शन दिखाई पड़ेगा उस पर क्लिक करना है, और उसमें पंजीकरण करते वक्त दर्ज किए गए मोबाइल नंबर, कैप्चा कोड और पासवर्ड को दर्ज करके लॉगइन प्रक्रिया को पूरी कर लेना है।

और उसके बाद इस योजना के आगे की प्रक्रिया को डैशबोर्ड में दिए हुए ऑप्शन पर क्लिक करके कर सकते हैं।

Bihar Fasal Sahayata Yojana Helpline Number

अगर आपके मन में भी बिहार सरकार द्वारा चलाए जा रहे मुख्यमंत्री फसल सहायता योजना से संबंधित कोई भी शिकायत या सुझाव है तो आप इस योजना से संबंधित निचे दिए हुए हेल्पलाइन नंबर पर संपर्क करके अपनी शिकायत को दर्ज करा सकते हैं।

Helpline Number- 18003456290
Email ID- kisanreghelp@gmail.com


Bihar Fasal Sahayata Yojana FAQ?

तो चलीय अब जानते हैं बिहार सरकार की बहुत ही महत्वपूर्ण और महत्वकांक्षी योजना बिहार फसल सहायता योजना (Mukhyamantri Fasal Sahayata Yojana) से संबंधित कुछ महत्वपूर्ण प्रश्नों के उत्तर के बारे में।

Q.बिहार राज्य फसल सहायता योजना 2022 का पैसा कब आएगा?

Ans: बिहार सरकार के मुख्यमंत्री फसल सहायता योजना के तहत दी जाने वाली मुआवजा राशि का पैसा इस साल के मार्च और अप्रैल महीने में सरकार द्वारा रिलीज कर दिया गया है।

Q.बिहार फसल बीमा ऑनलाइन कैसे करें?

Ans: अगर आप भी बिहार सरकार द्वारा चलाए जा रहे बिहार फसल बीमा योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन करना चाहते हैं तो आप अपने नजदीकी किसी भी सीएससी सेंटर में जाकर के ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।

Q.मुख्यमंत्री फसल सहायता योजना क्या है?

Ans: बिहार मुख्यमंत्री फसल सहायता योजना बिहार सरकार की एक ऐसी योजना है जिसके अंतर्गत बिहार के सभी किसानों को जिनकी फसलें प्राकृतिक आपदा जैसे कि बाढ़ सूखा ओलावृष्टि इत्यादि के कारण हो जाता है उन्हें सरकार द्वारा  ₹7500 से लेकर ₹10000 प्रति हेक्टेयर के हिसाब से मुआवजा राशि दिया जाता है।

निष्कर्ष –

आज के इस लेख में हम लोगों नें बिहार सरकार के बहुत ही महत्वपूर्ण योजना फसल बीमा सहायता योजना के बारे में जाना है तो ऐसे मे हिंदी वर्ल्ड टीम (hindiworld) को उम्मीद है कि इस लेख को पढ़ने के बाद आपको Mukhyamantri Fasal Sahayata Yojana से सम्बन्धित सभी प्रकार की जानकारी मिल गया होगा।

बाकी ऐसे ही बिहार सरकार द्वारा चलाए जा रहे अन्य योजनाओं के बारे में पढ़ने के लिए Bihar Sarkari Yojana” को जरूर चेक करें। धन्यवाद

Leave a Comment